December 6, 2022

Sher-E-Saahir

मेरी कलम से आपके दिल तक का एक सफर…

इस भरे शहर में वो ही अपना सा है Is Bhare Shahar Mein Woh Hi Apna Sa Hai

Is Bhare Shahar Mein Woh Hi Apna Sa Hai ….. In English

Is bhare shahar mein wo hi apna sa hai,

         Phir bhi lagta hai kyun, koi sapna sa hai.

 

 

इस भरे शहर में वो ही अपना सा है ….. In Hindi

“इस भरे शहर में वो ही अपना सा है,

फिर भी लगता है क्यों ,कोई सपना सा है। “

 

Uske bhi dil mein paiwast dashna ye ho

 

Read More:- इस अधूरी मोहब्बत का क्या फ़ायदा Is Adhoori Mohabbat Ka Kya Faayda

Read More:- मुझ सा कोई मिलेगा न तू जान ले Mujh Sa Koi Milega Na Tu Jaan Le

Read More:- सबका कोई हो मेरा धर्म तुम ही हो Sabka Koi Ho Mera Dharm Tum Hi Ho

Read More:- इस अधूरी मोहब्बत का क्या फ़ायदा Is Adhoori Mohabbat Ka Kya Faayda

Read More:-  तुम जो अपने हो और हम तुम्हारे सनम Tum Jo Apne Ho Aur Hum Tumhare Sanam

Read More:- इस अधूरी मोहब्बत का क्या फ़ायदा Is Adhoori Mohabbat Ka Kya Faayda

Read More:- मुझ सा कोई मिलेगा न तू जान ले Mujh Sa Koi Milega Na Tu Jaan Le

Read More:- सबका कोई हो मेरा धर्म तुम ही हो Sabka Koi Ho Mera Dharm Tum Hi Ho

Read More:- इस अधूरी मोहब्बत का क्या फ़ायदा Is Adhoori Mohabbat Ka Kya Faayda

Read More:-  तुम जो अपने हो और हम तुम्हारे सनम Tum Jo Apne Ho Aur Hum Tumhare Sanam

 ध्यान दें :-

दोस्तों अगर आपको ये पंक्तिया पसंद आयीं तो पूरी ग़ज़ल के लिए मेरे YouTube channel Sher-E-Saahir को देखें और Subscribe करें | 

नीचे दिए गए Facebook और Whatsapp बटन के माध्यम से आप इसे  Share भी कर सकते हैं जिसे की दूसरे लोग भी इसका आनन्द उठा सकें |

यदि आपको इसी तरह की नयी ग़ज़लें, शायरी और कवितायेँ रोज़ चाहियें तो आप नीचे दिए गए Bell icon पर Click कर सकते हैं और पा सकते हैं |